scriptMonsoon 2024: मौसम विभाग की भविष्यवाणी, 2 घंटे में यहां होगी झमाझम बारिश, मानसून का नया अलर्ट जारी | Monsoon 2024: Weather department predicts rains here in 2 hours, IMD alert | Patrika News
धौलपुर

Monsoon 2024: मौसम विभाग की भविष्यवाणी, 2 घंटे में यहां होगी झमाझम बारिश, मानसून का नया अलर्ट जारी

Monsoon 2024: उत्तरी-पूर्वी राज्यों में 31 मई को मानसून पहुंचा था और पश्चिमी बंगाल के कुछ हिस्से में भी आया था, लेकिन उसके बाद अब तक मानसून की बंगाल की खाड़ी की शाखा शांत है।

धौलपुरJun 18, 2024 / 03:33 pm

Rakesh Mishra

Monsoon 2024 Alert
Monsoon 2024: राजस्थान के कई जिलों में इस वक्त तेज गर्मी पड़ रही है। इस बीच मौसम विभाग ने आगामी 2 घंटों के लिए राहत भरा येलो अलर्ट जारी किया है। दरअसल विभाग के अनुसार जयपुर, दौसा, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाईमाधोपुर, टोंक, बारां, कोटा और झालावाड़ में मेघगर्जन, वज्रपता और धूल भरी हवाओं के साथ हल्की बारिश हो सकती है। इस दौरान हवा की रफ्तार 20 से 30 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है।
वहीं धौलपुर की बात करें तो यहां रविवार को आम जनता गर्मी से परेशान नजर आई। नौतपा निकल जाने के बाद लोगों ने नहीं सोचा होगा कि तापमान एक बार फिर 46 डिग्री पर पहुंच जाएगा। सूर्य की तीखी किरणों के कारण तापमान बढ़ता ही जा रहा है। जहां दो दिन से अधिकतम तापमान 46 डिग्री पर बना हुआ है। रविवार के बाद सोमवार को भी शहर का अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस दज किया गया। जो कि सामान्य से 3 डिग्री ज्यादा है। वहीं रात के तापमान में भी बढ़ोत्तरी देखी गई। जो कि 35.3 डिग्री दर्ज किया गया।

धौलपुर में चली आंधी

नौतपा के बाद एक बार फिर गर्मी अपना असर दिखा रही है और पारा लगातार बढ़ता जा रहा है। बढ़ते पारे की चाल से शहरवासी परेशान हैं। सुबह 11 बजे ही पारा 40 को छू रहा है। जो कि दोपहर होते-होते 46 पर पहुंच गया। नौतपा के बाद एक बार फिर तापमान के 46 के पार पहुंच गया है। जिससे गर्मी अब असहनीय हो गई है। हालांकि दोपहर 3 बजे के बाद छाए बादलों और उसके बाद आई हल्की आंधी ने शहरवासियों को थोड़ी राहत जरूर दी। लेकिन उमस और गर्मी से लोग दिन भर पसीना पौंछते नजर आए। जून माह के 17 दिन निकल जाने के बाद अभी तक प्री-मानसून की सुगबुगाहट तक नजर नहीं आ रही है। जिससे लोगों को कुछ राहत मिले। वहीं दूसरी तरफ दक्षिणी मानसून कमजोर हो गया है। बीते 17 दिन से बंगाल की खाड़ी में कोई सिस्टम नहीं बन पाया है। उत्तरी-पूर्वी राज्यों में 31 मई को मानसून पहुंचा था और पश्चिमी बंगाल के कुछ हिस्से में भी आया था, लेकिन उसके बाद अब तक मानसून की बंगाल की खाड़ी की शाखा शांत है। राजस्थान में बंगाल की खाड़ी की शाखा ही मानसूनी वर्षा लाती है।

Hindi News/ Dholpur / Monsoon 2024: मौसम विभाग की भविष्यवाणी, 2 घंटे में यहां होगी झमाझम बारिश, मानसून का नया अलर्ट जारी

ट्रेंडिंग वीडियो