scriptहथियार लैस हॉस्टल के गुंडों ने आधी रात सीनियर्स पर किया जानलेेवा हमला, सिर फटे | Armed students attacked seniors in the hostel at midnight, two got their heads broken | Patrika News
समाचार

हथियार लैस हॉस्टल के गुंडों ने आधी रात सीनियर्स पर किया जानलेेवा हमला, सिर फटे

डॉ. हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय के विवेकानंद छात्रावास में शनिवार-रविवार रात करीब ढाई बजे हथियारों से लैस छात्रों ने दो सीनियर्स खेमचंद कुशवाहा व संजू सिंह पर जानलेवा हमला कर दिया। 15 से 20 छात्र सीनियर्स के रूम का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे और मारपीट शुरू कर दी।

सागरJun 24, 2024 / 11:34 am

Madan Tiwari

जानलेवा हमला, दो के सिर फटे

जानलेवा हमला, दो के सिर फटे

पूरे हॉस्टल में फैला खून, घायलों की मदद करने वाले दहशत में छात्रावास छोड़कर भागे, पूरी रात भटकते रहे शहर में

सागर. डॉ. हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय के विवेकानंद छात्रावास में शनिवार-रविवार रात करीब ढाई बजे हथियारों से लैस छात्रों ने दो सीनियर्स खेमचंद कुशवाहा व संजू सिंह पर जानलेवा हमला कर दिया। 15 से 20 छात्र सीनियर्स के रूम का दरवाजा तोड़कर अंदर घुसे और मारपीट शुरू कर दी। विवाद के दौरान कोई बीच-बचाव करने आए इसको लेकर पहले ही हॉस्टल के अन्य रूम बाहर से बंद कर दिए थे। हमले में दो छात्रों के सिर फटे हैं। घटना के बाद छात्रावास के अन्य छात्र घायलों को लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां बीएमसी में उनका इलाज चल रहा है। वारदात के बाद पूरे छात्रावास में जहां-तहां खून फैला हुआ है, तो छात्रों के रूम में टूटा-फूटा सामान बिखरा पड़ा है। मामले में पुलिस ने पांच छात्रों पर मारपीट व बलवा की धाराओं के तहत एफआइआर दर्ज की है।

– दहशत में पूरी रात भटकते रहे छात्र

मारपीट करने वाले छात्रों ने घायलों की मदद करने वालों को भी धमकी दी और पूरी रात हथियार लेकर हॉस्टल के गेट पर बैठे रहे। आरोपियों की धमकी से छात्र इतनी दहशत में थे कि वे वापस हॉस्टल जाने की दम नहीं जुटा सके, करीब 20 से 25 छात्र पूरी रात शहर में यहां-वहां भटकते रहे। इसके बाद वे सुबह करीब 8 बजे पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे, लेकिन रविवार के कारण कार्यालय बंद था। सुबह पुलिस सक्रिय होने के बाद छात्र वापस हॉस्टल पहुंच सके। उन्हें डर था कि कहीं हथियारों से लैस बैठे हॉस्टल के गुंडे उनके साथ भी मारपीट न कर दें। भटक रहे छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रबंधन के साथ सिविल लाइन थाना पुलिस से भी मदद मांगी, लेकिन सुबह तक उन्हें किसी प्रकार की सहायता नहीं मिली। यही कारण था कि छात्र एकजुट होकर सुबह आठ बजे ही एसपी कार्यालय के बाहर पहुंच गए थे।

– पांच पर एफआइआर

सिविल लाइन थाना पुलिस ने घायल खेमचंद पुत्र जगजीवन कुशवाहा 23 साल निवासी जालोन उत्तरप्रदेश हाल निवासी विवेकानंद हॉस्टल रूम नंबर-155 की शिकायत पर जिन पांच लोगों पर एफआइआर दर्ज हुई है, उसमें नंदराम यादव, आदित्य यादव, शिवांश बघेल, ध्रुव शर्मा व कुलदीप यादव के नाम शामिल हैं।

– छात्र बोले मारपीट में 15 से ज्यादा छात्र थे

घायलों के साथी छात्रों का कहना है कि मारपीट करने वालों में 15 से 20 छात्र शामिल थे, लेकिन पुलिस ने मात्र पांच के नाम एफआइआर में लिखे हैं। छात्रों का आरोप है कि वारदात में चार वह छात्र भी शामिल थे जो अवैध रूप से हॉस्टल में रह रहे हैं। इसमें कुलदीप यादव, दीपांशु, अभिमन्यु करण, आलोक यादव के नाम बताए गए हैं।

– आरोपियों के रूम सील

घटना के बाद विश्वविद्यालय प्रबंधन ने रविवार की सुबह पहुंचकर मारपीट में शामिल छात्रों के रूम सील कर दिए हैं। मामले में जांच के बाद मारपीट कर परिसर का माहौल बिगाडऩे वाले छात्रों पर कार्रवाई की जाएगी।
डॉ. विवेक जायसवाल, जनसंपर्क अधिकारी, विवि

– आरोपियों की तलाश कर रहे हैं

घायल छात्र की शिकायत पर पांच लोगों पर बलवा, मारपीट सहित अन्य धाराओं में मामला पंजीबद्ध कर लिया है। वारदात के बाद से आरोपी छात्र फरार हो गए हैं, पुलिस उनकी तलाश कर रही है।
लखन लाल ऊइके, थाना प्रभारी, सिविल लाइन

Hindi News/ News Bulletin / हथियार लैस हॉस्टल के गुंडों ने आधी रात सीनियर्स पर किया जानलेेवा हमला, सिर फटे

ट्रेंडिंग वीडियो