scriptIMD: खुशखबरी! आगे बढ़ा दक्षिण-पश्चिमी मानसून, बारिश के लिए हो जाइए तैयार, गर्मी से राहत जल्द | good news South-west monsoon move forward rain alert issued relief from heat soon | Patrika News
राष्ट्रीय

IMD: खुशखबरी! आगे बढ़ा दक्षिण-पश्चिमी मानसून, बारिश के लिए हो जाइए तैयार, गर्मी से राहत जल्द

IMD Rain Alert: अगले 24 घंटों के दौरान कोंकण और गोवा और विदर्भ में कई स्थानों पर और मध्य महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में कुछ हिस्सों में बारिश होने का अनुमान जताया गया है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, सौराष्ट्र और कच्छ में आमतौर पर मौसम शुष्क बना रहेगा।

नई दिल्लीJun 12, 2024 / 07:59 pm

Paritosh Shahi

IMD Rain Alert: दक्षिण-पश्चिमी मानसून बुधवार को महाराष्ट्र, पूरे तेलंगाना और छत्तीसगढ़ के कुछ और हिस्सों में आगे बढ़ गया। मौसम विभाग के अनुसार अगले तीन-चार दिनों के दौरान ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश और उत्तर-पश्चिमी बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों में दक्षिण-पश्चिमी मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल बनी हुई हैं। इस बीच महाराष्ट्र में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ बारिश और तेज़ हवाएँ चलने का अनुमान है, साथ ही कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। अगले 24 घंटों के दौरान महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा के तटों पर 35 से 45 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं और बढ़कर 55 किमी प्रति घंटे हो सकती हैं।

IMD का पूर्वानुमान

अगले 24 घंटों के दौरान कोंकण और गोवा और विदर्भ में कई स्थानों पर और मध्य महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में कुछ हिस्सों में बारिश होने का अनुमान जताया गया है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, सौराष्ट्र और कच्छ में आमतौर पर मौसम शुष्क बना रहेगा। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड में कुछ स्थानों पर दिन का तापमान सामान्य से काफी ऊपर (5.1 डिग्री सेल्सियस या अधिक) रिकॉर्ड किया गया। जबकि उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पश्चिम बंगाल में गंगा के मैदानी इलाके और पश्चिम उत्तर प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद में कुछ स्थानों पर सामान्य से 3.1 से 5.0 डिग्री सेल्सियस अधिक तक दर्ज किया गया। इसके अलावा राजस्थान, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा, असम और मेघालय और नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भी ऐसी ही स्थिति बनी रहा।
अरुणाचल प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर, विदर्भ में कुछ स्थानों पर, गुजरात, पश्चिम मध्य प्रदेश और केरल और माहे में अलग-अलग स्थानों पर तापमान सामान्य से 1.6 से 3.0 डिग्री सेल्सियस तक ऊपर रहा। मराठवाड़ा के कई स्थानों पर, मध्य महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों, उत्तरी और आंतरिक कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों और यामन तथा रायलसीमा में तापमान सामान्य से 1.6 से 3.0 डिग्री सेल्सियस तक नीचे दर्ज किया गया। देश में बाकी हिस्सों में तापमान सामान्य रहा। मंगलवार को पूर्वी उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में सर्वाधिक तापमान 47 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

लू की स्थिति बरकरार

विभाग के मुताबिक गांगेय पश्चिम बंगाल और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में भीषण लू की स्थिति बनी हुई है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दक्षिण बिहार, झारखंड के कुछ हिस्सों और उत्तराखंड के मैदानी इलाकों, छत्तीसगढ़ और पूर्वोत्तर मध्य प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में भी लू की स्थिति बनी हुई है। दक्षिण-पश्चिम मानसून उप हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम तथा कोंकण और गोवा में सक्रिय है।
पिछले 24 घंटों के दौरान तटीय कर्नाटक और केरल में अधिकांश स्थानों पर तथा उप हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम, विदर्भ, कोंकण और गोवा और रायलसीमा में कई स्थानों पर तथा अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, तेलंगाना, उत्तर आंतरिक कर्नाटक, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप में कुछ स्थानों पर बारिश हुई या फिर गरज के साथ छींटे पड़े।

Hindi News/ National News / IMD: खुशखबरी! आगे बढ़ा दक्षिण-पश्चिमी मानसून, बारिश के लिए हो जाइए तैयार, गर्मी से राहत जल्द

ट्रेंडिंग वीडियो